भारतीय संविधान की प्रस्तावना-Preamble to Indian Constitution in Hindi?

प्रस्तावना/उद्देशिका (PREAMBLE)

 # प्रस्तावना/उद्देशिका (PREAMBLE) क्या है ! 

जैसा की हम सभी जानते है कि भारत का एक संविधान है और दुनिया का सबसे बड़ा संविधान है | हर कोई व्यक्ति भारत का संविधान नहीं पढ़ सकता है तो ऐसे में अगर किसी भी व्यक्ति को भारत का संविधान जानना हो तो वो व्यक्ति पूरा भारत का संविधान न पढ़कर भारत के संविधान कि प्रस्तावना/उद्देशिका (PREAMBLE) पढ़ सकता है | 

अगर सरल भाषा में कहे तो प्रस्तावना को भारत के संविधान के बहुत रूप में देखा जा सकता है जैसे कि :-

1) भारत का लघु संविधान ( short constitution )

2) भारत के संविधान का सार (summary)

3) भारत के संविधान का आधार ( basic of constitution )

4) भारत के संविधान का सूचकांक ( Index of Indian constitution )

#  भारत के संविधान कि प्रस्तावना/उद्देशिका (PREAMBLE) कैसे तैयार !

भारत के संविधान कि प्रस्तावना/उद्देशिका (PREAMBLE) कि भाषा ऑस्ट्रेलिया(Australia) 

भारत के संविधान कि प्रस्तावना/उद्देशिका (PREAMBLE) कि प्रारूप (Format) अमेरिका(USA)

भारत का संविधान को भारत के लोगों को देखकर बनाया गया है इसलिये भारत के संविधान कि प्रस्तावना/उद्देशिका (PREAMBLE) कि पहली(first) लाइन में लिखा हुआ है कि 

preamble

THE PEOPLES OF INDIA 

हम, भारत के लोग/निवासी , भारत को संपूर्ण प्रभुत्व-सम्पन्न समाजवादी पंथनिरपेक्ष लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने के लिए ,तथा उसके समस्त नागरिक को………. 

जिसका मतलब यह है की हम भारतीय संविधान में जो भी सुझाव या प्रावधान होगा की भारत की जनता को ध्यान रखकर संविधान सभा कार्य करेगी और भारत को एक ऐसा देश की संज्ञा देने की प्रयास करेंगे जो सम्पूर्ण विश्व के लिए एक उद्धरण होगा की कोई देश में देश के नागरिकों के लिए इतना कैसे कर सकता है| भारत देश को लोकतंत्र देश बना कर दिखांगे |

भारत के संविधान कि प्रस्तावना/उद्देशिका (PREAMBLE) में अब तक दो  बार बदलाव किया जा सका है। | 1946 मे 42th संशोधन द्वारा समाजवादी और धर्मनिरपेक्ष शब्द को जोड़ा गया था। 

 

@Roy Akash (pkj) 

2 thoughts on “भारतीय संविधान की प्रस्तावना-Preamble to Indian Constitution in Hindi?”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *